Neend Aane Ke Gharelu Upay

Neend Aane Ke Gharelu Upay

नींद आने के घरेलू उपाय

अनिद्रा, नींद न आना, निद्रानाश
Insomnia, Sleeplessness

परिचय-

हमारे लिए जिस प्रकार अन्न और जल आवश्यक है, वैसे ही नींद भी आवश्यक है। यदि किसी कारण से नींद आना बंद हो जाये तो जटिल रोग या जटिल रोग के आगमन की सूचना समझें। सामान्यतः तीव्र कष्ट, घोर चिंता, अधिक मानसिक तनाव(रोग, द्वेष, ईर्ष्या  आदि के कारण) के कारण नींद नहीं आती है। कभी-कभी ऐसा भी होता है कि लगातार 2 या 3 दिन सोने का समय नहीं मिलता और चैथे दिन या रात को सोने की इच्छा होते हुए भी नींद नहीं आती है। कारण चाहे कुछ भी हो, नींद के अभाव में सिर में दर्द एवं भारीपन, शरीर टूटा-टूटा रहना, ज्वर नहीं रहने पर भी ज्वर जैसी अनुभूति होना जैसे कि किसी प्रकार का नशा कर लिया हो, अरूचि, कब्ज़ आदि लक्षण होते हैं। अतः नींद न आने की चिकित्सा परमआवश्यक होती है। यदि समय पर चिकित्सा नहीं की जाती है तो रोगी पागलपन(उन्माद) जैसे मानसिक विकार का शिकार हो जाता है और स्मृति का नाश होता है।
इस परिस्थिति में निम्न योग लाभदायक है..

आप यह हिंदी लेख chetanherbal.com पर पढ़ रहे हैं..

आयुर्वेदिक चिकित्सा-

Neend Aane Ke Gharelu Upay

1. कर्पूर 200 मि.ग्रा. और भुनी हुई हींग 200 मि.ग्रा. की 1-1 गोली बना लें। ऐसी 1-1 गोली नित्य दो बार देने से अनिद्रा, मूच्र्छा और श्वास(दमा) में लाभ होता है।

2. कुमुदनी(कुमुदिनी) के फूलों का क्वाथ नियमित पीने से अनिद्रा और प्रबल कामेच्छा का नाश होता है।

3.कुसरंट बहुशाखी झाड़ीनुमा वृक्ष होता है। यह अपस्मार(मिरगी) और अनिद्रा में उपयोगी है। आसाम के लोग इसकी जड़ को थोड़ी मात्रा में नींद के लिए देते हैं। वहां इस रोग में यह योग प्रसिद्ध है। ऐसा कहा जाता है कि चाहे कष्ट कितना ही क्यों न हो, इसके प्रयोग से लाभ होता है। इससे अनिद्रा दूर होकर नींद अच्छी आती है।

Neend Aane Ke Gharelu Upay

4. भोजन में कच्चा प्याज नित्य नियमित खाने से अनिद्रा मधुर नींद में बदल जाती है।

5. पीपलामूल(पीपरामूल) के चूर्ण को गुड़ के साथ देने से बहुत दिनों से बहुत दिनों की नींद आने लगती है।

6. पोई साग(पोरो साग) नित्य खाने से नींद आने लगती है।

7. यदि गर्मी के कारण बच्चे को नींद न आये अथवा मिरगी के दौरे पड़ते हों, तो बनफ्शा का तेल नाक में नित्य 2-3 बार टपकाने से लाभ होता है।

8. बैंगन के भुरते के रस में शहद मिलाकर पिलाने से नींद आने लगती है।

9. मकाये की जड़ के क्वाथ में थोड़ा गुड़ मिलाकर सुबह और रात को पिलाने से नींद आने लगती है।

10. दूध में शतावर के चूर्ण की बनाकर इस खीर में घी मिलाकर सुबह-शाम खाने से अच्छी नींद आने लगती है।

11. सालपन की जड़ का सेवन करने से नींद आने लगती है।

12. अनिद्रा के रोगी को सेब या सेब का रस(जूस) सुबह-शाम सेवन करायें। नींद आने लगेगी।

About the author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.