chetanherbal.com

Motapa Kam Karne Ke Liye Aasan Desi Upay

मोटापा कम करने के लिए आसान देसी उपाय

मोटापा(Obesity)

यूं तो रोग कोई भी हो और किसी भी उम्र में हो, तकलीफदेह तो होता ही है और यूं भी भला रोगी रहना किसे पसंद है। सभी निरोगी और स्वस्थ रहना चाहते हैं। लेकिन आज के आधुनिक खानपान, रहन-सहन और प्रदूषित वातावरण के कारण बहुत ही कम ऐसा हो पाता है। अपने स्वास्थ्य व शरीर पर ध्यान न देने के कारण व्यक्ति कई रोगों को बिना बात के निमंत्रण दे देता है। इन्हीं लापरवाहियों में से एक है मोटापा।
स्वाद के चक्कर में व्यक्ति इतना खा जाता है कि पूछो मत। शादी-ब्याह, जन्मदिन की महफिल या कोई भी खुशी की पार्टी समारोह में जीभ के स्वाद के चक्कर में भूख से अधिक खा जाता है। वैसे भी कई लोगों की आदत होती है सारे दिन चरते रहते हैं। बिना भूख के भी अनाप-शनाप खाना, बाजारू आहार ज्यादा लेना, जंक फूड का बहुत ज्यादा सेवन करना जैसे उनकी जिंदगी का हिस्सा बन गया हो। फिर नतीजा वही..मोटापा!
अपने मोटापे से आज लगभग 80 प्रतिशत लोग परेशान हैं। खुद ही अपनी लापरवाहियों के कारण वे मोटापे से दुखी हैं और पतला होने की कामना रखते हैं। दुखी तो होंगे ही, क्योंकि चलने-फिरने, खासकर उठने-बैठने में परेशानी, किसी भी काम को आसानी नहीं कर पाते हैं और करते हैं तो जल्दी थक जाते हैं इत्यादि समस्या मोटे लोगों के साथ लगी रहती है।

यह हिंदी लेख आप chetanherbal.com पर पढ़ रहे हैं..

इस हिंदी लेख में हम आपको बता रहे हैं कुछ आसान से उपायों के बारे में जिनसे आप अपना मोटापा काफी हद तक कम कर सकते हैं..

मोटापा घटाने के देसी उपाय-

chetanherbal.com

1. 200 मि.ली. गुनगुने पानी में आधा नींबू का रस मिला लें। उसे सुबह-शाम खाली पेट प्रतिदिन पियें। गठिया व एसिडिटी के रोगी इसे प्रयोग बिल्कुल न करें। इस पेय में शुद्ध शहद भी दो चम्मच(चाय वाले) मिला सकते हैं।

2. अपामार्ग के पौधे की बालियां छाया में सुखा लें। सूखने पर धान की भांति कूटकर उसके चावल के समान बीज निकाल लें। फिर इन चावलों की खीर बना लें। यह एक दिन खाने पर तीन दिन तक भूख नहीं लगेगी। फिर कुछ न खायें। पानी पीते रहें। इसके प्रयोग से शरीर की अनावश्यक चर्बी घट जाती है और कमज़ोरी भी नहीं आती है। यह प्रयोग उनके लिए बहुत अच्छा है, जिन्हें भूख बहुत ज्यादा सताती है और वह सारे दिन खाने पर मजबूर हो जाते हैं।

Motapa Kam Karne Ke Liye Aasan Desi Upay

3. कुलत्थ, ज्वार, सामा, जौ और मँूग। ये सभी अनाज, मधु मिश्रित जल, दही का पानी, मट्ठा तथा अरिष्टों का पान, चिंता, शोधन एवं जागरण ये विहार। इन सबका सेवन चर्बी को घटाता है।

4. मोटे लोग प्रायः अति आहार के आदी व शौकीन होते हैं। यदि वे भोजन के पहले एक गिलास गुनगुना पानी पी लिया करें तो भोजन अधिक नहीं कर सकेंगे। वैसे भी मोटे लोग यदि अधिक से अधिक गुनगुना पानी पियें तो उन्हें विशेष लाभ होता है।
यह बात देखने में आई है कि अज्ञानता के कारण वे लोग बाजार के प्रचलित ठंडे पेय, घर में फ्रिज का पानी, किसी निमंत्रण में पार्टी के बाद अति ठंडा पानी या आइसक्रीम खा लेते हैं। इससे उनका मोटापा और बढ़ता है। याद रखें कि कभी तली हुई चीजें खानी पड़े, तो उसके बाद गर्म पेय पीने से हानि कम होती है।

5. मोटापे से ग्रस्त लोगों को दूध व शक्कर पड़ी चाय बहुत हानि पहुंचाती है। इनमें शरीर को हानि पहुंचाने वाले 18 विषैले तत्व होते हैं। यदि चाय ही पीनी हो तो जड़ी-बूटियों की देशी चाय ही पियें।

यह भी पढ़ें- हाई ब्लडप्रेशर

6. बेर की पत्तियों की अच्छी तरह से पीस लें और फिर इसमें जरा से चावल मिलाकर कौंजी के साथ मिलाकर पी जायें। इससे मोटापा काफी हद तक कम हो जायेगा। सर्दियों के मौसम में अगर इसका सेवन कर रहे हैं, तो इसको मामूली सा गर्म करके लें।

7. बबूल(कीकर) कांटे तर या शुष्क 3 ग्राम पीसकर रोजाना जल के साथ खायें। मोटापा देखते ही देखते छू मंतर हो जायेगा।

About the author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.