Asthma Ka Ilaj

Asthma Ka Ilaj

अस्थमा का इलाज

श्वास रोग, दमा
अस्थमा(Asthma)

Asthma Ka Ilaj, Asthma Treatment In Ayurveda, Asthma Causes

जब फेफड़ों के अंदर की नलियों के तन्तुओं में अकड़न के साथ संकोचन होता है, जिससे फेफड़ों में भली-भाँति ऑक्सीजन(श्वास) अंदर नहीं जा पाती है, जिससे श्वास लेने में परेशानी होती है उसे ‘दमा’ कहते हैं।

देसी व आयुर्वेदिक उपचार-

Asthma Ka Ilaj

1. काफूर एवं हींग प्रत्येक 250 मि.ग्रा. मिलाकर गोली बना लें। ऐसी 1-1 गोली प्रत्येक 3-3 घण्टे बाद प्रतिदिन दें।

2. मुलेहठी का चूर्ण 10 ग्राम तथा अलसी के बीज 6 ग्राम। पानी में उबाल कर सुबह-शाम पियें।

आप यह हिंदी लेख chetanherbal.com पर पढ़ रहे हैं..

3. अलसी के बीज 10 ग्राम कूटकर पानी में उबाल कर ठंडा कर लें। फिर मधु 20 ग्राम मिलाकर पियें। बलगम को निकाल कर कष्ट कम करता है।

4. हुक्का की चिलम में तम्बाकू इतना जलायें कि सफेद राख बन जाये। एक रत्ती पान में रखकर खाते ही दौरा दूर हो जाता है।

5. चने के बराबर हीरा कसीस दें। बलगम निकाल कर राहत देगा।

यह भी पढ़ें- मधुमेह

6. लोबान तथा सोमकल्पा बूटी चूर्ण समान मात्रा में गर्म पानी से सुबह-शाम दें।

7. आक की कली, काली मिर्च प्रत्येक 250 मि.ग्रा. में जौर का क्षार 250 मि.ग्रा. प्रतिदिन रात को गर्म पानी से दें।

8. अदरक का रस समभाग मधु मिलाकर चाटने से लाभ होगा।

9. धतूरे तथा आक के पीले पत्ते समभाग। दोनों के बराबर गुड़ मिलाकर चने के बराबर गोलियाँ बना लें। 1-1 गोली सुबह-शाम दें।

10. अनार के फूल तथा कत्था 10-10 ग्राम तथा कपूर 1 ग्राम पान के रस में घोंटकर चने के बराबर गोलियाँ बना लें। 1-1 गोली 6-6 घण्टे बाद चूसने को दें।

11. कायफल, छोटी पीपल और काकड़सिंगी समभाग लेकर चूर्ण बना लें। चैथाई से एक ग्राम सुबह-शाम शहद के साथ दें। लाभ होगा।

12. अदरक के रस में शहद मिलाकर चाटने से श्वास, खाँसी और जुकाम में लाभ होता है। जुकाम के साथ होने वाली खाँसी एवं श्वास की तो परमौषधि है।

13. सोंठ का काढ़ा बनाकर ठण्डा करके शहद मिलाकर सुबह-शाम पीने से श्वास में लाभ होता है।

14. पोहकर मूल, जवाखार और काली मिर्च का चूर्ण जल के साथ लेने से श्वास और हिचकी में लाभ होता है।

About the author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.