Aankhon Ki Kamzori Ka Ilaj

Aankhon Ki Kamzori Ka Ilaj

आँखों की कमज़ोरी का इलाज

रतौंधी, रात को दिखाई न देना, तिमिर रोग

Night Blindness, Night Blindness Causes, Night Blindness Test

परिचय-

रोगी दिन में तो सब कुछ साफ देखता है, लेकिन सूरज अस्त होते ही(रात में) उसको कुछ भी दिखाई नहीं देता है। यहाँ तक कि चांदनी रात में भी कुछ नहीं दिखाई देता है।

आप यह हिंदी लेख Chetanherbal.com पर पढ़ रहे हैं..

चिकित्सा-

Aankhon Ki Kamzori Ka Ilaj

1. अगस्त्य के फूलों का साग नित्य खाने से रतौंधी में लाभ होता है।

2. कसौंदी के ताजे पत्तों को पानी में पीसकर, समभाग गेहूँ का आटा मिलाकर रोटी बनाकर तिलों के तेल के साथ खाने से रतौंधी में लाभ होता है।

3. कसौंदी के पत्तों का रस आँखों में टपकाने से रतौंधी में लाभ होतो है।

4. गुंजा(चिरमिटी, करजनी) की जड़ बकरी के मूत्र में घिसकर अंजन करने से घोर तिमिर रोग ठीक हो जाता है।

5. ग्वार की फली(सहज दृढ़ बीजा) के पत्तों के रस को आँखों में लगाने और इसके पत्तों को उबाल कर खाने से रतौंधी ठीक हो जाती है।

6. ताम्बूल(नागर बेल का पान) का रस आँखों में डालने से रतौंधी और आई-फ्लू(आँख आना) में लाभ होता है। पान का रस आँखों में लगाने से भी फायदा पहुंचता है।

यह भी पढ़ें- मधुमेह

7. तुलसी के पत्तों का रस आँखों में डालने से रतौंधी ठीक हो जाती है।

Aankhon Ki Kamzori Ka Ilaj

8. नीम के पत्तों का रस आँखों में आँजने और नीम के 60-60 मि.ली. रस 2 दिन सुबह के समय पीने से रतौंधी ठीक हो जाती है। आंतरिक सेवन दो दिन से अधिक मत करें।

9. आँखों में पीपल का आंजन करने से रतौंधी में लाभ होता है।

10. पीपल 1 भाग और हरड़ 2 भाग को जल में पीसकर बत्ती बनाकर आँख में फेरने से रतौंधी और आँखों से पीप बहना बंद हो जाता है।

11. समुद्रफल को बकरी के मूत्र में पीसकर आँखों में आंजने से रतौंधी में आराम पहुंचता है।

12. सहजना की कोमल डालियों के रस में शहद मिलाकर नेत्रों में डालने से रतौंधी में लाभ होता है।

13. सिरिस के पत्तों का काढ़ा पीने और इसके पत्तों के रस को आँखों में डालने से रतौंधी में लाभ होता है।

About the author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.